हिंदी लव शायरी। Love Shayari

Khuda Shayari ishk shayari intezar shayari chahat shayari wasta shayari yaad shayari Teri meri shayari ahmiyyat shayari mohabbat shayari wafadari shayari.

क्या मांगू खुदा से तुम्हें पाने के बाद;
किसका करू इतजारं तेरे आने के बाद;
कयों इश्क में जान लुटा देते है लोग;
मैनें भी यह जाना तुमसे इश्क करने के बाद!
Kya mangu khuda se tumhen pane ke bad.
Kiska karun intezar tere jane ke bad
Kyun ishk me Jan luta dete hain log
Maine bhi ye jana tumse ishk karne ke bad

मेरी चाहत मेरी राहत सिर्फ़ आप
मेरा दिल मेरी जान सिर्फ़ आप
Meri chahat meri Rahat sirf aap
Mera dil meri jaan sirf aap.

खुदा जाने कौन सा
वास्ता है तुमसे
हजारों अपने है पर
याद तुम ही आते हो।
Khuda jane kon sa wasta hai tumse
Hazaron apne hai par yaad sirf tum aate ho.

बस इतना ही फ़र्क़ है तेरी और मेरी
मोहब्बत में, मैंने सबको छोड़कर तुझे
एहमियत दी और तुमने मुझे छोड़कर
सबको।
Bas itna hi fark hai tera teri or meri mohabbat me
Maine sabko chhod ke tujhe ahmiyyat di
Or tune mujhe chhodker sab ko.

मोहब्बत तब ही करो
जब उसे निभा सको
बाद में मजबूरियो का सहारा लेकर
किसी को छोड़ देना वफादारी नहीं दोती
Mohabbat tab hi karo jab use nibha sako
Kisi ko chhod dena wafadari nahi hoti.

Leave a Reply

%d bloggers like this: